constant in C++ in hindi

constant का प्रयोग program में किसी variable की value को fixed करने के लिए किया जाता है। अर्थात जब हम किसी variable को constant type variable declare करते हैं तो इस constant variable का मान program में कभी भी change नहीं होता।

constant के बारे में कुछ महत्वपूर्ण तथ्य नीचे दिए गए हैं –

  • एक constant variable हमेशा initialize किया जायेगा।
  • एक constant, कोई भी data -type हो सकता है।
  • जब एक constant को value assign किया जाता है तो यह fixed हो जाती है इसे बाद में बदला नहीं जा सकता।
  • C++ में , हम दो तरीके से constant का उपयोग कर सकते हैं, पहला const keyword का उपयोग करके और दूसरा #define pre-processor का उपयोग करके।
  • constant को literals भी कहा जाता है।

एक constant को define करने के लिए #define pre-processor का उपयोग करना अच्छी programming ाददात नहीं होगी।

क्योंकि constant किसी भी data-type का हो सकता है इसलिए C++ में constant कई भागो में बांटा गया है –

इसे आप निचे दिए गए diagram से समझ सकते हैं –

constant in cpp in hindi

<token and keywords in C++

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *